फ्लाइट में देवदूत बनकर पहुंचे केंद्रीय मंत्री डॉ. भागवत कराड, बचाई अचानक बेहोश हुए यात्री की जान


मुंबई ब्यूरो। केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री भागवत कराड सिर्फ नाम के ही डॉक्टर नहीं हैं। यह बात उन्होंने दोबारा साबित करके दिखाई है। मंत्री पद पर आसीन होने के बाद भी उन्होंने डॉक्टरी पेशे के कर्तव्य को भुलाया नहीं है। शायद इसीलिए मराठवाड़ा के इस सपूत के अंदर का इंसान और डॉक्टर अभी भी जिंदा है। कुछ ऐसी प्रतिक्रिया अब लोगों की तरफ से दी जा रही है। घटना सोमवार की है।
15 अक्टूबर दिन सोमवार को डॉ. भागवत कराड इंडिगों की फ्लाइट में बैठे थे। उसी समय पीछे की सीट पर बैठे एक यात्री को अचानक तकलीफ होने लगी और वह अचानक सीट से गिर पड़ा। इस घटना के बाद प्लेन में हलचल शुरू हो गई। लोगों की आवाज़ डॉ. कराड के कानों तक भी पहुंची। यह सुनते ही उन्होंने एक पल की भी देरी किए बगैर वो अपनी सीट से उठे और उस व्यक्ति की मदद के लिए दौड़े।
उस व्यक्ति की तबीयत खराब होने की वजह से डॉ. भागवत कराड ने एक पल का भी विलंब ना करते हुए उसकी मदद की। इस दौरान उन्होंने केंद्रीय मंत्री होने के प्रोटोकॉल को भी तोड़ दिया। एक डॉक्टर होने के नाते उन्होंने उस मरीज की जान को बचाना सबसे ज्यादा जरूरी समझा। इस पूरे दृश्य को प्लेन में मौजूद सभी यात्री भी देख रहे थे। एक जरूरतमंद व्यक्ति की मदद के लिए दौड़ कर आए डॉक्टर को देखकर सभी लोगों के मन में उनके प्रति आदर की भावना निर्माण हुई। इस पूरे अभुभव को डॉक्टर भागवत कराड ने फेसबुक पोस्ट पर साझा किया है। ऐसे कई प्रकार के अनुभव उन्होंने अपने जीवन में लिए हैं। जरूरतमंद व्यक्ति की मदद करके काफी खुशी और सुकून मिलता है। एक- दूसरे की मदद करना संत भी सिखाते हैं। उन्होंने दूसरों से भी जरूरतमंदों की मदद करने की अपील की है।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर