मुजफ्फपुर के एसपी सिटी के इकलौते बेटे की सड़क हादसे में मौत


हाजीपुर,(बिहार)। हाजीपुर-मुजफ्फरपुर राष्ट्रीय राजमार्ग-22 पर सदर थाना क्षेत्र के दौलतपुर देवरिया गांव के पास गुरुवार की सुबह तेज गति कार सड़क किनारे पोखर में पलट गई। कार चला रहे मुजफ्फरपुर के सिटी एसपी राजेश कुमार के इकलौते पुत्र 19 वर्षीय राजवीर शेखर की मौत हो गई। वहीं, हादसे में कार सवार दोस्त गंभीर रूप से जख्मी हो गया। राजवीर पटना में कंकड़बाग इलाके में अपने घर से मुजफ्फरपुर के लिए निकला था। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराकर शव स्वजनों को सौंप दिया। शाम को पटना गुलबी घाट पर अंतिम संस्कार कर दिया गया। घटना की सूचना मिलते ही सदर एसडीपीओ राघव दयाल व सदर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और स्थानीय लोगों की मदद से दोनों को कार से निकालकर सदर अस्पताल पहुंचाया। जांच के बाद चिकित्सक ने सिटी एसपी के पुत्र को मृत घोषित कर दिया, जबकि दोस्त का उपचार चल रहा है। सूचना मिलते ही मुजफ्फरपुर सिटी एसपी राजेश कुमार व उनके स्वजन सदर अस्पताल पहुंच गए। अस्पताल में पोस्टमार्टम कराने के बाद पुलिस ने शव को स्वजनों को सौंप दिया। इसके बाद शव को पटना के कंकड़बाग स्थित आवास पर ले जाया गया। छठ के दिन इकलौते पुत्र की मौत को लेकर सिटी एसपी के घर में कोहराम मचा है। स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। सिटी एसपी मूलरूप से नालंदा जिले के छतरपुर के रहने वाले हैं। हालांकि, उनका ननिहाल नवादा के मिर्जानगर में है। वहां उनका आना-जाना लगा रहता है।
मुजफ्फरपुर के सिटी एसपी राजेश का पटना के कंकड़बाग में रोड नंबर-आठ में रामलखन पथ पर अशोक नगर में फ्लैट है। गुरुवार तड़के करीब तीन बजे आवास से राजवीर शेखर अपने दोस्त मधेपुरा निवासी और पटना के भागवतनगर से हरिराम यादव के पुत्र अंगद कुमार के साथ कार से मुजफ्फरपुर जा रहा था। कार जैसे ही हाजीपुर-मुजफ्फरपुर एनएच-22 पर सदर थाना क्षेत्र के दौलतपुर देवरिया गांव के पास पहुंची, संतुलन खो दिया और कार सड़क किनारे पोखर में पलट गई। घटना के बाद जुटे लोगों ने सदर थाने की पुलिस को जानकारी दी। उसके दोस्त अंगद कुमार का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है। पुलिस ने क्रेन की मदद से कार को गड्ढे से बाहर निकलवाया है।