आगरा में दरोगा भर्ती की ऑनलाइन परीक्षा में सॉल्वर सहित तीन गिरफ्तार, पांच लाख में लिया था पास कराने का ठेका


आगरा,(उत्तर प्रदेश)। पुलिस विभाग में दरोगा और समकक्ष पदों के लिए चल रही ऑनलाइन परीक्षा में सोमवार को खंदौली स्थित आरबीएस इंस्टीट्यूट परीक्षा केंद्र के पास से एसटीएफ गौतमबुद्ध नगर यूनिट ने सॉल्वर, एजेंट और परीक्षार्थी को पकड़ लिया। आरोपियों के खिलाफ थाना खंदौली में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया है। एजेंट ने परीक्षार्थी से पांच लाख रुपये में पास कराने का ठेका लिया था।
एसटीएफ के अपर पुलिस अधीक्षक राजकुमार मिश्रा के अनुसार, सोमवार को अलीगढ़ निवासी राजकुमार शर्मा को गौतमबुद्ध नगर में परीक्षा के दौरान सॉल्वर बैठाने के मामले में पकड़ा था। उससे पूछताछ में पता चला कि खंदौली स्थित आरबीएस इंस्टीट्यूट में आयोजित दरोगा भर्ती परीक्षा में एजेंट बंटी कुमार ने भी परीक्षार्थी हरेंद्र सिंह के स्थान पर सॉल्वर अविनाश को बैठाया है। टीम ने कार्रवाई करते हुए इंस्टीट्यूट के पास से तीनों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया। 
गिरफ्तार
1. बंटी कुमार निवासी पहाडीपुर, थाना इगलास, अलीगढ़।
2. हरेंद्र सिंह निवासी बिरौली, थाना अनपूशहर, बुलंदशहर।
3. अविनाश कुमार निवासी तुलसीपुर घोरघाट, थाना बडियापुर, मुंगेर, बिहार।
आरोपियों से दो एडमिट कार्ड की छायाप्रति, दो आधार कार्ड, एक उपस्थिति पत्रिका, एक कार आई-10, छह हजार रुपये बरामद किए गए। तीनों आरोपियों को आरबीएस इंस्टीटयूट, खंदौली के पास से सोमवार दोपहर को गिरफ्तार किया गया।
पूछताछ में पता चला कि अभियुक्त बंटी कुमार ने राजकुमार के साथ ही सॉल्वर बैठाकर प्रतियोगी परीक्षा में पास कराने का तरीका सीखा था। बंटी बीएड पास है। उसकी मुलाकात वर्ष 2019 में एक शादी समारोह में परीक्षार्थी हरेंद्र सिंह से हुई थी। हरेंद्र ने अलीगढ़ के कालेज से एमसीए किया है। उसने सरकारी नौकरी की तैयारी करने के बारे में बताया। इस पर बंटी ने उससे कहा था कि वह सॉल्वर बैठाकर परीक्षा में पास करा देता है। इसके लिए रुपये लगेंगे। उसका नंबर ले लिया। कहा कि जब किसी परीक्षा का फार्म भरो तो बता देना। मुंगेर का रहने वाला अविनाश बंटी का दोस्त है। दोनों ने एक साथ बीएड किया था। इस परीक्षा में बैठाने के लिए अविनाश को भेजा था। बंटी वर्ष 2017 से विभिन्न प्रतियोगी परीक्षा में सॉल्वर बैठाने का काम कर रहा है। इसके लिए दो से पांच लाख तक लेता है। बंटी ने हरेंद्र को परीक्षा में पास कराने के लिए पांच लाख रुपये में सौदा किया था।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर