गाजियाबाद के लोनी बॉर्डर थाना क्षेत्र में गोतस्करों की पुलिस से मुठभेड़, सात तस्कर घायल


गाजियाबाद ब्यूरो। गाजियाबाद की लोनी थाना पुलिस ने 7 गौ तस्करों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने मुखबिर की सूचना के आधार पर अभियान चलाया। इसमें लोनी थाना पुलिस को एक बड़ी कामयाबी मिली है। यहां पर गाय कटान का कार्य किया जा रहा था। छापेमारी के क्रम में गौ तस्करों व पुलिस के बीच भिड़ंत भी हो गई। इसमें गोली चलने व तस्करों के घायल होने की भी सूचना है। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर लोनी बॉर्डर क्षेत्र के तहत बेहटा हाजीपुर के एक गोदाम में चल रहे गाय के कटान वाले गोदाम पर छापा मारा। पुलिस ने गोदाम पर रंगे हाथों गाय काट रहे 7 गौ तस्करों को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार किया। इस दौरान 2 गौ तस्कर भागने में कामयाब रहे। पुलिस उनकी तलाश में जुटी हुई है। पुलिस ने इनकी निशानदेही से अवैध हथियार और गाय काटने के तमाम उपकरण भी बरामद किए हैं। एसपी देहात डॉ. ईराज राजा ने बताया कि लोनी बॉर्डर थाना क्षेत्र अंतर्गत एक बड़े गोदाम में गाय कटान का गोरख धंधा चल रहा था। इसकी सूचना मुखबिर के द्वारा पुलिस को मिली। सूचना के आधार पर पुलिस ने देर रात गोदाम पर छापेमारी की तो गोदाम के अंदर कुछ गौ तस्कर गाय कटान में लगे हुए थे। पुलिस ने सभी को चारों तरफ से घेर लिया। जैसे ही गौ तस्करों ने अपने आपको चारों तरफ से घिरा हुआ देखा तो पुलिस पार्टी पर करीब 7 राउंड फायरिंग की। इसमें एसएचओ की गाड़ी में भी गोली लगी। गनीमत रही कि पुलिसकर्मी बाल-बाल बच गए। तस्करों की ओर से फायरिंग किए जाने के बाद पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की। पुलिस की ओर से 13 राउंड फायरिंग की गई, इस दौरान 7 गौ तस्करों को गोली लगी। उन्हें दबोच लिया गया, जबकि दो तस्कर भागने में कामयाब रहे। उन्होंने बताया कि इस दौरान पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान घायल हुए मुस्तकीम पुत्र हनीफ, सलमान पुत्र शौकीन ,मोनू पुत्र पप्पू निवासी, इंतजार पुत्र यूनुस ,नाजिम,आसिफ पुत्र यूनुस,बोलर पुत्र इस्लाम समेत कुल 7 बदमाशों को गिरफ्तार कर इलाज के लिये भर्ती कराया है। दानिश और भूरा नाम के इनके दो अन्य साथी भागने में कामयाब हो गए।
फरार गौ तस्करों की गिरफ्तारी के लिए दबिश बढ़ा दी गई है। उन्हें भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। एसपी देहात ने बताया कि गिरफ्तार किए गए बदमाशों की निशानदेही से 3 गौवंश कटे हुए बरामद किए गए हैं। उनका नमूना लेकर पशु चिकित्सक को बुलाकर डिस्पोजल कराया जा रहा है। इसके अलावा सात तमंचे, 12 जिंदा कारतूस, 7 खोखे, दो कुल्हाड़ी, पांच छुरी, दो बंडल प्लास्टिक की रस्सी बरामद किए गए हैं। इसके अलावा फिलहाल इन सभी गौ तस्करों के अपराधिक इतिहास को खंगाला जा रहा है।
गौ तस्करों को पकड़ने के मामले में हिंदू संगठनों ने गाजियाबाद थाना लोनी बॉर्डर प्रभारी राजेंद्र त्यागी का सम्मान किया। थाना पहुंचे लोगों ने जमकर पुलिस जिंदाबाद के नारे लगाए। पुलिस की ओर से गौ तस्करों को पकड़े जाने की संगठनों ने जमकर तारीफ की। मुठभेड़ के बाद पुलिस ने तस्करों को पकड़ा है। पुलिस की कार्रवाई से खुश लोगों ने लोनी बॉर्डर थाना पहुंचकर पुलिसकर्मियों की हौसला आफजाई की।