प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ! बुन्देलखण्ड राज्य बना दीजये : प्रवीण पाण्डेय


 खागा,(फतेहपुर)। रानी लक्ष्मीबाई की जयंती पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आगमन को लेकर बुंदेलियों में उत्साह है । उम्मीद है झांसी की रानी के इतिहास को नये सम्मान और तेवरों के साथ पुनर्स्थापित करने के लिए मोदी सरकार हर वो कदम उठाएगी जिसकी रानी पात्र थीं और बुन्देलखण्ड झांसी भी।  पृथक बुंदेलखंड राज्य की मांग को लेकर रिकार्ड २३ बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने खून से खत लिख  चुके बुन्देलखण्ड राष्ट्र समिति के   केंद्रीय अध्यक्ष प्रवीण पाण्डेय ने कहा की बुंदेलखंड के सांसदों के जमीर जागने का इंतजार हम बुन्देली कर रहे है। बुंदेलखंड राष्ट्र समिति द्वारा बुंदेलखंड के सभी सांसदों विधायकों  से पत्र लिखकर ज्ञापन देकर मांग किया जाता रहा है  कि वह   बुंदेलखंड राज्य का निर्माण करवाए। अगर सांसदों , विधायकों ने अब भी अपनी चुप्पी नहीं तोड़ी तो बुंदेली बुन्देलखण्ड राज्य निर्माण का  एक सुनहरा अवसर गंवा देंगे।   बुन्देलखंड राष्ट्र समिति  की ओर से पुनः एक बार ज्ञापन ,डाक, ई- मेल एवं व्हाट्सएप्प के माध्यम से अखंड बुन्देलखंड क्षेत्र के वर्तमान व पूर्व  जनप्रतिनिधियों को पत्र भेजकर कहा गया है कि जैसा कि आपको विदित है कि वर्ष 2014 में  हम बुन्देलियो से वादा किया गया  था कि केन्द्र सरकार बनने पर  3 साल के भीतर बुन्देलखंड राज्य बना देंगे।    वादा किये हुए साढे सात वर्ष गुजर जाने के बाद भी केंद्र सरकार में किसी भी तरह की कार्यवाही तक प्रारम्भ नही हुई है जिससे हम बुन्देलखंड वासियो में निराशा व आक्रोस व्याप्त होता जा रहा है। प्रवीण पाण्डेय ने कहा की अब बुंदेलखंड के सांसदों की बारी है कि वे  एक साथ अलग राज्य का मुद्दा उठाकर मातृभूमि के प्रति अपने दायित्व को निभाएं। उनको एक प्रतिनिधि मंडल बनाकर भी प्रधानमंत्री से मिलना चाहिए। बुंदेलखंड की हकीकत बताना चाहिए।