गाजियाबाद में प्रदूषण फैलाने वाली गाड़ियों का सिर्फ चालान नहीं, अब होगी एफआईआर


गाजियाबाद ब्यूरो। सर्दियों के मौसम में हवा के खराब होने पर वाहनों से होने वाले प्रदूषण को भी एक बड़ा कारण माना जा रहा है। ऐसे में इस प्रकार के वाहनों पर अब सिर्फ जुर्माना नहीं, मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। इसकी जानकारी गाजियाबाद का दौरा करने पहुंचे एडीजी ट्रैफिक ज्योति नारायण ने दी। एडीजी ने बताया कि हवा को साफ करने के लिए सभी विभाग काम कर रहे हैं। इसी कड़ी में वाहनों के जरिए प्रदूषण फैलाने वालों को सीज करना और चालान की जिम्मेदारी पुलिस की है। एमवी एक्ट में हुई कार्रवाई में अक्सर वाहन सिर्फ चालान की राशि भर कर छूट जाते हैं। अब ऐसा नहीं हो इसके लिए पर्यावरण संरक्षण अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी। अभी तक हम जिले में साइलेंट जोन यानी ऐसे इलाके जहां शोर करने पर कार्रवाई हो सकती है, उसकी कमी है। इन जोन के संबंध में एडीजी प्रशासन के अधिकारियों के साथ मीटिंग करेंगे। उन्होंने बताया कि बुधवार को वह प्रशासन और आरटीओ के अधिकारियों के साथ मीटिंग करेंगे, जिसमें साइलेंट जोन पर बात की जाएगी।
एडीजी ने वायु और ध्वनि प्रदूषण समेत ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन को लेकर गाजियाबाद पुलिस की कार्रवाई पर तारीफ की। इस साल जिले में अक्टूबर तक ही 5500 से अधिक चालान सिर्फ प्रदूषण के हैं जो पिछले साल से 31 फीसदी ज्यादा हैं।