सुब्रत राय समेत 17 लोगों पर 25 लाख करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का केस दर्ज


कानपुर,(उत्तर प्रदेश)। सहारा इंडिया के चेयरमैन सुब्रत राय और 17 अन्य लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी, जालसाजी और आपराधिक साजिश के आरोप में कानपुर के काकादेव थाने में एफआईआर दर्ज की गई है। सहारा प्रमुख, उनकी पत्नी स्वप्ना रॉय, बेटों- सुशांतो राय और सीमांतो राय, बहू चांदनी रॉय, ऋचा, भाई जेबी रॉय और समूह के वरिष्ठ सदस्यों के खिलाफ रविवार को मामला दर्ज किया गया है।
प्राथमिकी में शामिल अन्य लोगों में निदेशक- जितेंद्र कुमार वार्ष्णेय, करुणेश अवस्थी, अनिल कुमार पांडे, राना जिया, डीके श्रीवास्तव, रोमी दत्ता, प्रदीप श्रीवास्तव, ओमप्रकाश श्रीवास्तव, अब्दुल दबीर और ऑडिटर- पवन कपूर और आरएन खन्ना हैं। कानपुर के पुलिस आयुक्त असीम अरुण ने सुब्रत रॉय और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने की पुष्टि की। एफआईआर में आरोप लगाया गया कि आरोपियों ने कई कंपनी और सोसाइटी लॉन्च कीं और देश भर में 25 लाख से अधिक लोगों को ठगा, जिसमें कानपुर के एक लाख से अधिक लोग शामिल हैं, कुल मिलाकर 25 लाख करोड़ रुपये से अधिक की ठगी की गयी। पीड़ितों के अनुरोध पर प्राथमिकी दर्ज कराने वाले मंदार भारतीय अन्तरराष्ट्रीय के वकील एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय टंडन ने बताया कि पैसा आरोपियों की कंपनियों के माध्यम से कानपुर और देश के अन्य हिस्सों में निवेश और आवास के नाम पर जमा किया गया था ।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर