मामूली सी बात पर तालाब में कूदी पत्नी, बचाने गया पति भी डूबा, 17 घंटे बाद मिले दोनों के शव


आगरा,(उत्तर प्रदेश)। उत्तर प्रदेश के आगरा जिले में हैरान करने वाला मामला सामने आया है। पति-पत्नी के बीच मामूली सी बात पर विवाद हो गया। इस दौरान पत्नी को इतना तेज गुस्सा आया उसने तालाब में छलांग लगा दी। पत्नी को बचाने के लिए पति भी तालाब में कूद पड़ा। इस घटना में दोनों की मौत हो गई। दोनों के दो मासूम बच्चे अनाथ हो गए। दपंती के शवों को खोजने के लिए कई घंटे लग गए। करीब 17 घंटे बाद दोनों के शव तालाब से बरामद क‍िए गए। जानकारी के अनुसार, मलपुरा के गांव गढ़ी दौलता के रहने वाले 28 वर्षीय बहादुर जाटव का मंगलवार शाम को अपनी पत्नी दीपा 26 वर्ष, से किसी बात को लेकर विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि गुस्साई दीपा घर से निकल गई और कुछ ही दूर स्थित तालाब में जाकर कूद गई। उसके पीछे-पीछे बहादुर भी चला गया। जब उसने तालाब में पत्नी को कूदते देखा तो वो उसे बचाने के लिए तालाब में कूद गया। तालाब में गहरा पानी होने के कारण दोनों उसमें डूब गए।
स्थानीय लोगों ने जब इन दोनों को कूदते हुए देखा तो शोर-शराबा मच गया। आसपास के लोग मौके पर जुट गए। इसकी सूचना पुलिस को दी गई तो पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। मौके पर पीएसी के गोताखोर बुलाए गए। रात भर दोनों की तलाश की गई, लेकिन दोनों का कुछ पता नहीं चल सका। बुधवार सुबह एक बार फिर से दोनों की तलाश की गई। बताया जाता है कि गोताखोरों को सुबह 10 बजे के करीब दोनों के शव तालाब में मिल गए। मलपुरा पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दोनों के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।
घटना मंगलवार शाम की थी। पति पत्नी को खोजने के लिए पीएसी के 15 सदस्यों की रेस्क्यू ऑपरेशन टीम ने पूरी रात कोशिश की, लेकिन दोनों का कोई पता नहीं चल सका। अगले दिन बुधवार को सुबह आठ बजे दोबारा से गोताखोरों ने बचाव कार्य शुरू किया, सुबह दीपा और बहादुर के शव तलाब से निकाल लिए गए। मामूली विवाद पर पति पत्नी की मौत से स्थानीय लोग अचरच में हैं।
स्थानीय लोगों ने बताया कि दीपा और बहादुर के डेढ़ साल की बेटी और तीन महीने का बेटा है। दोनों मासूम अनाथ हो गए हैं। बहादुर के दो भाई हैं, लेकिन तीनों भाई अलग-अलग रह रहे थे। बहादुर पत्थर लगाने का काम करता था। उसके माता-पिता नहीं हैं। वह हर रोज काम करने के लिए आगरा आता था।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर