दिल्ली में गर्भवती से छेड़छाड़ और मारपीट, रंजिश में तोड़े दोनों हाथ


दिल्ली ब्यूरो। उत्तर-पूर्वी दिल्ली के शास्त्री पार्क इलाके में मामूली झगड़े के दौरान पड़ोसियों ने न सिर्फ गर्भवती महिला के दोनों हाथ तोड़ दिए बल्कि उसके साथ शारीरिक छेड़छाड़ भी की। महिला के पति को भी बेरहमी से पीटा गया। वारदात के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए। गंभीर हालत में पीड़िता को जग प्रवेश चंद अस्पताल ले जाया गया। इलाज के बाद उसे छुट्टी दे दी गई। महिला के दोनों हाथ टूट गए हैं। पीड़ितों की शिकायत पर पुलिस ने घर में घुसकर मारपीट, छेड़छाड़, जान से मारने की धमकी और अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया है। वारदात के बाद आरोपी फरार हैं। पुलिस उनकी तलाश कर रही है।
पुलिस के मुताबिक पीड़िता शालू (26) (बदला हुआ नाम) परिवार के सा थ शास्त्री पार्क इलाके में किराए के मकान में रहती है। इसके परिवार में पति व बच्चे हैं। शालू छह माह की गर्भवती है। शालू ने पुलिस को बताया कि करीब पांच-छह माह पूर्व इनके परिवार का पड़ोस में रहने वाले आसिफ के परिवार से झगड़ा हुआ था। आरोपियों ने शालू के पति का सिर फोड़ दिया था। उसे सिर में 14 टांके आए थे। 
लेकिन दोनों परिवारों के बीच समझौता होने की वजह से कोई एफआईआर दर्ज नहीं हुई थी। शालू ने बताया कि तभी से आसिफ व उसका परिवार उनके परिवार से रंजिश रखता है। आरोप है कि रविवार को आसिफ के परिवार के एक लड़के ने जानबूझकर उनके बर्तनों में थूक दिया। इसी बात पर कहासुनी होने के बाद आसिफ के परिवार के आधा दर्जन लोगों ने हमला कर दिया।
हमले के दौरान आरोपियों ने शालू के पेट पर डंटा मारा तो पीड़िता ने दोनों हाथों से अपना पेट पकड़ लिया। इसके बाद भी आरोपी लगातार उसके हाथों पर डंडा मारते रहे। शालू के दोनों हाथ टूट गए। इसके बाद आरोपियों ने उसके पति से भी जमकर मारपीट की। वारदात के बाद आरोपी फरार हो गए। पीड़िता को अस्पताल में भर्ती कराया गया। बाद में उसके बयान पर मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर