रूठकर मायके गई पत्नी, दो मासूमों संग पति ने आग लगाकर कर ली आत्महत्या


गोरखपुर,(उत्तर प्रदेश)। गोरखपुर के गीडा थाना क्षेत्र में बुधवार दोपहर करीब 2 बजे एक दिल दहला देने वाली घटना हुई। गीडा के सरया गांव निवासी 36 वर्षीय मदन कन्नौजिया ने पत्नी वियोग में अपने दो मासूम बच्चों 7 वर्षीय बेटी अन्नपूर्णा और 5 वर्षीय बेटे शेषनाथ के साथ आग लगाकर आत्मदाह कर लिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने तीनों के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। मामले में मृतक के भाई मोहन ने पुलिस को तहरीर देकर पत्नी से विवाद होने और उसके मायके में होने से परेशान होने की बात कही है।
सरया निवासी मदन कन्नौजिया पुत्र लालचंद ने घर के अंदर ही बेटी अन्नपूर्णा और बेटे शेषनाथ के साथ जाकर दरवाजा बंद कर लिया और सिलेंडर का नाब खोलकर आग लिया। घर से धुआं निकलने पर स्वजनों ने दरवाजा तोड़ा और अंदर गए, लेकिन तब तक तीनों की मौत हो चुकी थी। मृतक के भाई मोहन कन्नौजिया ने पुलिस को दिए तहरीर में बताया कि दोपहर के समय बड़े भाई ने दोनों बच्चों के साथ सिलेंडर का नाब खोल दिया और पाइप निकाल कर आग लगा लिया। भाई ने यह भी बताया कि बड़े भाई का अपनी पत्नी से कुछ दिन पहले विवाद हो गया था। जिसके बाद वह नाराज होकर मायके चली गई थी। कई बार मृतक ने उसे मनाने की भी कोशिश की, लेकिन वह नहीं मानी। भाई ने मृतक के मानसिक रूप से बीमार होने का भी दावा किया है।
घटना के बाद एसपी नार्थ मनोज अवस्थी के नेतृत्व में गीडा पुलिस मौके पर पहुंच गई। वहीं, फॅरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंच कर साक्ष्य इकट्ठा किया। फिलहाल पुलिस ने घटना की जानकारी उसकी पत्नी को भी दे दी है। वहीं, गीडा थानेदार विनय कुमार सरोज ने इस सम्बंध में कहा कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है। घटना के पीछे क्या कारण है, इसका पता लगाया जा रहा है

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर