पूर्वी दिल्ली नगर निगम की स्थायी समिति के अध्यक्ष बीर सिंह पंवार की अध्यक्षता में हुई बैठक


दिल्ली ब्यूरो। बैंक्वेट हाल व व्यावसायिक प्रतिष्ठान संचालकों को संपत्ति कर का भुगतान न करने पर नोटिस भेजने और कूड़ा जलाने पर सफाई निरीक्षकों के निलंबन को लेकर बृहस्पतिवार को पूर्वी दिल्ली नगर निगम की स्थायी समिति में सदस्यों ने आपत्ति जताई। एक सेवानिवृत्त कर्मचारी को महत्वपूर्ण पद पर रखने का विरोध करते हुए उसे हटाने की मांग की। इस पर जवाब देते हुए निगम आयुक्त विकास आनंद ने दो टूक कहा कि निगम कार्रवाई नहीं करना चाहता। सभी अपने आप संपत्ति कर का भुगतान कर दें। जो भुगतान नहीं करेगा, उस पर कार्रवाई जरूर होगी। प्रदूषण फैलने से रोकने के काम में लगाए गए कर्मचारी और अधिकारी अपनी जिम्मेदारी ठीक से नहीं निभाएंगे तो उनको भी खामियाजा भुगतना होगा। सेवानिवृत्त कर्मचारियों और अधिकारियों की नियुक्ति को लेकर विधिक राय ली जाने की जानकारी दी।
स्थायी समिति के अध्यक्ष बीर सिंह पंवार की अध्यक्षता में हुई बैठक में नेता सदन सत्यपाल सिंह ने नई आबकारी नीति के तहत खुल रहे शराब के ठेकों का मुद्दा जोर उठाया। उन्होंने कहा कि शराब के ठेकों से भी ट्रेड लाइसेंस शुल्क वसूला जाए। सत्तादल के अन्य पार्षदों ने कहा कि संकरे मार्गों पर दुकानों में ठेके खोले जा रहे हैं। इससे वहां अराजकता का माहौल बनने का खतरा है। लिहाजा जिन दुकानों में ठेके खुल रहे हैं, वहां यह जांचा जाए कि उनका नक्शा स्वीकृत है या नहीं। आशंका जताई कि कहीं गैर व्यावसायिक मार्गों पर अवैध रूप से बनी दुकानों में तो ठेके नहीं खुल रहे। फिर उन पर कार्रवाई की जाए। पार्षद गुंजन गुप्ता ने कहा कि नई नीति के तहत शराब की दुकानों को देर रात तक खोलने की इजाजत दी गई है, उससे कूड़ा ज्यादा होगा। साथ ही सवाल पूछा कि इस मुद्दे को लेकर निगम ने अब तक क्या पत्रचार किया है। इस मुद्दे पर सत्तादल के पार्षदों के आवाज उठाने पर विपक्ष से पार्षद मोहिनी जीनवाल ने आपत्ति जताई। उन्होंने कहा कि ठेके का मुद्दा निगम का नहीं है। इस पर जोरदार हंगामा हुआ, जिसे शांत कराना पड़ा। बैठक में स्थायी समिति के उपाध्यक्ष दीपक मल्होत्रा, पुनीत शर्मा, शशि चांदना ने अपनी बात रखी।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर