बिजनौर में पुलिस वाले की राइफल ले भागे बाइकर्स, थाने में सिपाही और होमगार्ड को पीटा, मुरादाबाद में मुंह पर थूका गुटखा


उत्तर प्रदेश डेस्क। उत्तर प्रदेश की पुलिस सूबे की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर चाहें जितने दावे कर ले, जमीनी हकीकत कुछ और ही है। आलम ये है कि प्रदेश में जनता तो छोड़िए दबंग अब सुरक्षा के दावे करने वाली पुलिस को ही नहीं बख्श रहे हैं। दरअसल पश्चिम उत्तर प्रदेश से सामने आए दो मामले हैरान कर देने वाले हैं। यहां न सिर्फ पुलिस से मारपीट हुई बल्कि यहां आरोपी सिपाही की बंदूक छीनकर ले गए। वहीं दसूरे एक मामले में पुलिस स्टेशन के अंदर आरोपी ने सिपाही और होमगार्ड से झगड़ा कर मुंह पर गुटखा थूंक थप्पड़ तक जड़ दिया।
बिजनौर के एएसपी प्रवीण रंजन के मुताबिक बिजनौर के अफजलगढ़ थाने में तैनात सिपाही ललित कुमार और होमगार्ड भीम सिंह रात में भूतपुरी तिराहे पर ड्यूटी पर तैनात थे। रात में मैला का एक ट्रक तिराहे पर पलट गया। जिसको हटाने के लिए जेसीबी मशीन मंगाई गई थी। इसी दौरान उत्तराखंड नंबर यूके 06ए 6602 की काले रंग की बाइक पर सवार दो युवक आए। उनकी बाइक सड़क पर फैले मैले में फिसल गई। इस पर बाइक सवारों ने ट्रक के ड्राइवर को गालियां देना शुरू कर दिया।
इस बीच पुलिसकर्मी और होमगार्ड सड़क पर पहले से ट्रैफिक पास करा रहे थे। सिपाही ललित ने बाइक सवारों को गाली देने से मना किया। जिसको लेकर बाइक सवार दोनों युवक सिपाही और होमगार्ड से भिड़ गए। दोनों युवकों ने सिपाही से काफी मारपीट की और उसके सिर में तमंचे की बट मार दी। सिपाही घायल हो गया। इस बीच बाइक सवार युवकों ने घायल सिपाही से इंसास राइफल छीन ली। जिसके बाद होमगार्ड ने हमलावरों पर दूसरी राइफल से वार किया लेकिन दोनों बाइकर्स मौके से फरार हो गए।
घटना के बाद होमगार्ड ने पुलिस कंट्रोल रूम को घटना की सूचना दी। एएसपी रामअर्ज, सीओ अफजलगढ़ आदि कई थानों की फोर्स संग मौके पर पहुंचे। बॉर्डर पर स्थित पड़ोसी जनपदों के थानों को भी अलर्ट भेजा गया। घटना को लेकर पड़ोसी जनपदों में सर्च अभियान चलाया गया। घायल सिपाही ललित को काशीपुर के हॉस्पिटल में भर्ती कराया। वहीं बिजनौर की इस घटना का एक वीडियो वायरल हो गया है। एसपी प्रवीण रंजन का कहना है कि बाइक के नंबर के आधार पर हमलावरों की तलाश में चार टीम लगाई गई हैं। हमला करने वाले युवकों के पास स्प्लेंडर बाइक थी। उन्होंने कहा पुलिस जल्द ही आरोपियों तक पहुंच जाएगी।
दूसरा मामला मुरादाबाद के थाना ठाकुरद्वारा की पीआरवी का है। यहां ड्यूटी पर तैनात होमगार्ड ध्रुव चौहान के मुताबिक मंगलवार रात करीब आठ बजे डायल 112 पर शुएब नाम के व्यक्ति ने कॉल कर कुछ लोगों द्वारा अपनी स्कूटी तोड़ने की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस शुएब को तहरीर देने के लिए अपने साथ ले आए। इसके बाद थाने में शुएब ने पुलिस पर देरी से पहुंचने का आरोप लगाकर हंगामा खड़ा कर दिया। इस दौरान शुएब और होमगार्ड ध्रुव कुमार से नोकझोंक होने लगी। जिस पर सिपाही और होमगार्ड ने शुएब से मारपीट कर दी।
होमगार्ड पर थूक दिया गुटखा
आरोप है कि मारपीट से नारज शुएब ने ध्रुव के मुंह पर गुटखा थूक दिया और थप्पड़ भी मारा। आरोप है कि शुएब ने होमगार्ड की वर्दी खींचकर फाड़ दी। पुलिस के मुताबिक शुएब के पिता ठाकुरद्वारा स्वास्थ्य विभाग में तैनात थे। लॉकडाउन के दौरान भी शुएब सिपाही शिव कुमार के साथ मारपीट में जेल गया था। अब होमगार्ड ध्रुव चौहान की तहरीर पर शुएब के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर