अमरोहा के एसडीएम पर खुदकुशी के लिए उकसाने के आरोप में दिल्ली में एफआईआर दर्ज


अमरोहा ,(उत्तर प्रदेश)। दिल्ली में फर्नीचर कारोबारी को खुदकुशी के लिए उकसाने के आरोप में एसडीएम (वर्तमान में हापुड़ में तैनात) और सगे भाई-बहन समेत तीन के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। खुदकुशी करने से पहले कारोबारी ने सीएम योगी को संबोधित तीन पेज का सूइसाइड नोट छोड़ा था। सूइसाइड नोट में अमरोहा के एसडीएम और आला अफसरों पर उत्पीड़न का आरोप लगाया था। दिल्ली पुलिस और अमरोहा प्रशासन ने मामले में कोई कार्रवाई नहीं की थी। अब न्यायालय के आदेश पर एफआईआर दर्ज कराई गई है।
आरोपी एसडीएम और भाई-बहन के विरुद्ध कार्रवाई की मांग को लेकर परिजनों ने 14 अगस्त को कारोबारी का शव रखकर जाम भी लगा दिया था। डीएम और एसपी ने मामले में कार्रवाई कराने का आश्वासन दिया था। इसके बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हुई। लिहाजा परिजनों ने न्यायालय की शरण ली।
जानकारी के मुताबिक 13 अगस्त को उत्तम नगर थाना क्षेत्र के ओम विहार निवासी मोहम्मद जाबिर ने खुद के फ्लैट पर आत्महत्या कर ली थी। परिजनों ने पुलिस को बताया था कि आत्महत्या की वजह जमीन का विवाद हैं।
परिजनों ने आरोप लगाया है कि मुरादाबाद निवासी सऊद आलम, उनकी बहन शाजिया और अमरोहा सदर के एसडीएम विवेक यादव के प्रताड़ित करने के कारण जाबिर ने जान दी है। दिल्ली निवासी मोहम्मद जाबिर ने अमरोहा के हाइवे पर गांव अम्हेड़ा में मुरादाबाद निवासी सैफ आलम से 2018 में कुछ जमीन खरीदी थी।
इस बीच मुरादाबाद के बारादरी निवासी शख्स और गाजियाबाद निवासी उसकी बहन ने फर्जी दस्तावेजों से जमीन पर कब्जे का प्रयास किया। जाबिर ने तत्कालीन एसडीएम और कमिश्नर के स्तर पर पैरवी कर अपने हक में दाखिल खारिज करवाया। लेकिन एसडीएम सदर ने मुरादाबाद के शख्स से नजदीकी रिश्ते निभाते हुए नियम विरुद्ध तरीके से भाई-बहन के पक्ष में आदेश पारित कर दिया।
परिजनों ने आरोप लगाया है कि एसडीएम विवेक यादव ने जाबिर से पांच लाख रुपये लिए थे, इसके बाद भी आदेश भाई-बहन के हक में कर दिया। जाबिर के रकम वापस मांगने पर जेल भेजने की धमकी दी गई थी। इन हालात से टूटकर जाबिर ने जीने की आशा छोड़ दी और खुदकुशी कर ली। कोर्ट ने दिल्ली के उत्तम नगर थाना पुलिस को एसडीएम समेत तीनों आरोपियों के खिलाफ एफआईआर लिखने का आदेश दिया है। दिल्ली की उत्तम नगर थाना पुलिस मामले की जांच कर रही हैं। जाबिर के परिजनों से मामले में सबूत मांगे गए हैं।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर