यूपी एटीएस के पूरे साल का ब्यौरा, अवैध धर्मातंरण सहित कई बड़े आतंकी मॉड्यूल का किया पर्दाफाश


लखनऊ,(उत्तर प्रदेश)। उत्तर प्रदेश के डीजीपी मुकुल गोयल ने साल 2021 में आतंकवाद निरोधी दस्ता (एटीएस) के कामकाज के साल भर का ब्यौरा दिया है। गुरुवार लखनऊ में एक प्रेस वार्ता में मुकुल गोयल ने कहा कि ये साल यूपी एटीएस के लिए कई उपलब्धियों वाला रहा है। उन्होंने बताया कि इस साल एटीएस ने अवैध धर्मातंरण में 17 गिरफ्तारियां कीं। उन्होंने जानाकारी देते हुए कहा कि ये गिरफ्तारियां यूपी के अलावा बाहर के कई अन्य राज्यों से भी की गईं। वहीं कई आतंकी साजिशों का भी पर्दाफाश किया गया।
यूपी डीजीपी मुकुल गोयल ने बताया कि यूपी एटीएस ने अवैध धर्मांतरण में मौलाना कलीम सिद्दीकी, उमर गौतम और सलाऊद्दीन सहित यूपी आदि 8 प्रांतों से 17 आरोपी गिरफ्तार किए। एटीएस ने लगभग 100 करोड़ से अधिक की राशि का बैंक और हवाला के माध्यम से आदान-प्रदान और धार्मिक ट्रस्टों के नाम पर इनकी संपत्तियों का खुलासा किया है।
विदेशी फंडिंग पर हुई कार्रवाई
उन्होंने बताया कि इस अभियोग में विदेश से फंडिग करने वालों पर भी कार्रवाई की गई है। इन तीनों आरोपियों के बैंक खातों से देश-विदेश से लगभग 55 करोड़ रुपए का आदान प्रदान हुआ है और शेष धन हवाला के माध्यम से आया है।
आंतकी मॉड्यूल का किया पर्दाफाश
डीजीपी यूपी ने जानकारी देते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश एटीएस ने इस साल कई आंतकी मॉड्यूल का भी पर्दाफाश किया। जिसमें काकोरी, लखनऊ में AQIS का मॉड्यूल और प्रयागराज में आईएसआई (ISI) का मॉड्यूल प्रमुख है। इसमें कुकर बम, आरडीएक्स जैसे विस्फोटक और कारतूस आदि बरामद किए गए।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर