इलेक्ट्रिक बस सेवा के उद्घाटन कार्यक्रम से हटा गाजियाबाद का नाम, सिर्फ 7 शहरों में होगा फ्लैग ऑफ कार्यक्रम


गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश में इलेक्ट्रिक बसों के उद्घाटन कार्यक्रम से गाजियाबाद का नाम हटा दिया गया है। अब सिर्फ 7 शहरों में ही फ्लैग ऑफ कार्यक्रम होगा। राजधानी दिल्ली में रविवार की शाम हेड क्वॉर्टर में मीटिंग के बाद यह फैसला लिया गया है। इस कार्यक्रम का आयोजन उत्तर प्रदेश के मेरठ में होगा। जानकारी के मुताबिक, गाजियाबाद में बिना उद्घाटन 15 बसों के साथ अब सीधे इलेक्ट्रिक बसों का ऑपरेशन शुरू हो जाएगा। इस संबंध में मेरठ कमिश्नर ने सोमवार को मीटिंग बुलाई है।
बता दें कि यूपी शहरी विकास विभाग के अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि आने वाली 5 जनवरी को 15 लो फ्लोर एसी इलेक्ट्रिक बसों की सेवा शुरू की जानी है। मेरठ में एक कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हरी झंडी दिखाकर बस सेवा का शुभारंभ करेंगे। गाजियाबाद में शुरुआत में 15 बसें चलेंगी, जिन्हें चार मार्गों पर चलाया जाएगा। बसों के लिए ईवी इन्फ्रास्ट्रक्चर की जरूरतों को पूरा करने के लिए यूपीएसआरटीसी 12 चार्जिंग पॉइंट स्थापित करने वाला है।
बताया गया कि ये बसें एक ट्रिप में 88 किमी यात्रा करेंगी। इनमें सफर करने वाले लोगों को न्यूनतम 10 रुपये और अधिकतम 40 रुपये किराया देना होगा। बता दें कि प्रदेश में वायु प्रदूषण पर लगाम लगाने के लिए राज्य सरकार प्रमुख शहरों में इलेक्ट्रिक बस सेवा शुरू करने की योजना पर काम कर रही है। इसके लिए लखनऊ, कानपुर, आगरा, मथुरा, प्रयागराज, मेरठ, बरेली, सहारनपुर, मुरादाबाद, शाहजहांपुर, अलीगढ़, गाजियाबाद और झांसी जिले को चिह्नित किया गया है, जहां डीजल बसों को हटाकर इलेक्ट्रिक बसों को चलाया जाएगा।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर