जिला प्रशासन के लिखित आश्वासन से पांचवें दिन समाप्त हुआ अनशन


बबेरु,(बाँदा)। कस्बा स्थित मुख्य चौराहे पर बीते पांच दिनों से चल रहे अनशन जिला प्रशासन के लिखित आश्वासन पर समाप्त कर दिया गया। बांदा जनपद में सरकार द्वारा संचालित गोशालाओं में गोवंश की दुर्दशा तथा जिला प्रशासन के खिलाफ आवाज बुलंद करने पर बुंदेलखण्ड राष्ट्र समिति के जिलाध्यक्ष पीसी पटेल के खिलाफ फर्जी मुकदमा दर्ज कराने पर स्वयंसेवक अनशन कर रहे थे। अनशन के पांचवे दिन तहसीलदार बबेरू ने अनशनकारियों से मिलकर उन्हें आश्वस्त किया कि दर्ज मुकदमा वापस होगा। साथ ही गोवंशी की दुर्दशा पर जिम्मेदार कर्मचारी व गोशाला संचालक के खिलाफ कठोर कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। 
बीते बुधवार से जारी अनशन में बुंदेलखण्ड क्षेत्र की मातृ शक्तियों ने सबसे पहले अपना समर्थन दिया था। उसके बाद यादव महासभा तथा विश्व हिंदू महासंघ ग़ौरक्षा प्रकोष्ठ के तहसील प्रभारी एवं तहसील अध्यक्ष योगेंद्र सिंह की अगुवाई में दर्जनों पदाधिकारी धरने पर बैठ गए थे। बुंदेलखंड किसान मजदूर संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रहलाद करवरिया के आह्वान पर एक सैकड़ा किसान अनशन पर शामिल हुए थे। बुंदेलखंड किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष विमल शर्मा समेत किसानों के समर्थन से लगातार कारवां बढ़ता जा रहा था। भारी हुजूम को देखकर प्रशासन हरकत में आया। कोतवाली पुलिस द्वारा अनशनकारियों के ऊपर दबाव डाला गया। अनशनकारियों की दृढ़ता देखते हुए उपजिलाधिकारी दिनेश सिंह ने मुकदमा समाप्त कराने एवं सचिव पर कार्यवाही का भरोसा देते हुए नायब तहसीलदार अभिनव तिवारी को मौके पर भेजा। ब्लाक प्रमुख रमाकांत पटेल ने सभी अनशनकारियों को जूस पिलाकर अनशन समाप्त कराया। पीसी पटेल जनसेवक जिलाध्यक्ष बुंदेलखंड राष्ट्र समिति, डालचंद्र मिश्रा, प्रमुख इते, नंदू पटेल, कौशल पटेल, योगेंद्र सिंह, प्रदीप मिश्रा, महानंद सिंह, जीतू पटेल, शुभम कश्यप समेत दर्जनों अनशनकारी मौजूद रहे। जिलाध्यक्ष ने सभी अनशनकारी साथियों को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि यदि प्रशासनिक आश्वासन कोरा साबित हुआ तो दोबारा व्यापक पैमाने पर आंदोलन होगा।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर