चुनाव से पहले गाजियाबाद में एफओबी और रोपवे प्रॉजेक्ट का शिलान्यास और उद्‌घाटन अटका


गाजियाबाद ब्यूरो। गाजियाबाद में आचार संहिता कभी भी लग सकती है। ऐसे में कई प्रॉजेक्ट हैं जिन पर काम नहीं हो पाया है या इनका टेंडर अधूरा पड़ा है। जबकि कुछ ऐसे प्रॉजेक्ट हैं जिनका उद्घाटन होना अभी बाकी है। यदि आचार संहिता लागू होने से पहले इनपर काम नहीं हुआ तो यह अटक सकते हैं। ऐसे में जीडीए अधिकारियों द्वारा भी छोटे-बड़े सभी कार्यों का बजट पास किया जा रहा है और कोशिश की जा रही हैं कि जल्द से जल्द इनका टेंडर खोल दिया जाए।
जीडीए की तरफ से निर्मित एस्कलेटर युक्त एफओबी मोहननगर पर बनकर तैयार है। लगभग ढाई करोड़ की लागत से बना यह एफओबी गाजियाबाद का पहला एफओबी होगा, जिसमें एस्कलेटर लगा है। इसका रोजाना ट्रायल चल रहा है। लेकिन अभी तक इसके उद्घाटन की तारीख तय नहीं है। सूत्रों का कहना है कि विधायक सुनील शर्मा और सांसद वीके सिंह द्वारा इसका उद्घाटन किया जाना है लेकिन विधायक को कोरोना होने के बाद वैसे ही इसके उद्घाटन पर संशय बना हुआ है।
रोपवे प्रॉजेक्ट का शिलान्यास भी सांसद वीके सिंह द्वारा किया जाना है। यह मुद्दा बोर्ड बैठक में भी शामिल किया गया है, लेकिन हर बार बोर्ड बैठक ही टल जा रही है। लगभग 450 करोड़ की लागत से पैसेंजर रोपवे का निर्माण किया जाना है। जिसमें 60 प्रतिशत पीपीपी का टेंडर लेने वाली कंपनी, 20 प्रतिशत केंद्र सरकार और 20 प्रतिशत राज्य सरकार वहन करेगी।

Popular posts from this blog

उत्तर पूर्वी जिला पुलिस ने ऑपरेशन अंकुश के तहत छेनू गैंग के चार बदमाशों को किया गिरफ्तार

जीटीबी एंक्लेव थाने में तैनात दिल्ली पुलिस की महिला एसआई ने लगा ली फांसी, पुलिस ने बचाई जान

रोटरी क्लब इंदिरपुरम परिवार के पूर्व प्रधान सुशील चांडक को ज़ोन २० का बनाया गया असिस्टंट गवर्नर